Himachal Tonite

Go Beyond News

लम्बित पड़े ऋण मामलों को समयबद्ध निपटाने के निर्देश 

सोलन, दिसम्बर 18 – उपायुक्त सोलन केसी चमन ने सोलन जिला में कार्यरत विभिन्न बैंकों को निर्देश दिए कि वे लम्बित पड़े ऋण मामलों सहित बैंकों से सम्बन्धित विभिन्न कार्यों को समय पर निपटाएं। केसी चमन आज यहां जिला के अग्रणी बैंक यूको बैंक द्वारा निर्धारित जिला सलाहकार समीति की 161वीं त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
केसी चमन ने कहा कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग स्थापित करने के लिए प्राप्त आवेदनों का पात्रता अनुसार ऋण शीघ्र स्वीकृत किया जाना चाहिए ताकि युवा उद्यमी समय पर लाभ प्राप्त कर अपना व्यवसाय आरम्भ कर सकें। उन्होंने कहा कि सभी बैंकर्ज को दिए गए लक्ष्य को समय पर प्राप्त करना चाहिए। उन्होंने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे ऋण सम्बन्धी मामलों के अविलम्ब निपटारे के लिए बैंकों के साथ समन्वय स्थापित करें।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण उत्पन्न खतरे के मध्य वर्तमान में युवा शक्ति को सही दिशा प्रदान करना और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के माध्यम से आर्थिकी को सुदृढ़ करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि उद्योग स्थापित करने के लिए ऋण आवश्यक है और यदि बैंक समय पर ऋण प्रदान करें तो स्थिति को संभालने में सहायता मिल सकती है।

बैठक में जानकारी दी गई कि जिला में 30 सितम्बर 2020 तक प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 218861 खाते खोले गए हैं। इन खातों में 8019.92 लाख रुपए जमा किए गए हैं। 64 प्रतिशत खाता धारकों को रूपे कार्ड जारी कर दिए गए हैं जबकि 88.98 प्रतिशत खातों को आधार संख्या से जोड़ा गया है। इस अवधि तक प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से 285211 लाभार्थियों को जोड़ा गया है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना से 170709 तथा अटल पैंशन योजना से 36504 लाभार्थी जुड़ चुके हैं।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत सोलन जिला में सितम्बर 2020 तक 14878 खाते खोले गए हैं। योजना की शिशु श्रेणी के तहत 4745 लाभार्थियों को लगभग 2333 लाख रुपए, किशोर श्रेणी में 7292 व्यक्तियों को लगभग 18699 लाख रुपये तथा तरूण श्रेणी के तहत 2841 लाभार्थियों को लगभग 20202 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं। जिला में सितम्बर, 2020 तक 28579 किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं।

बैठक में अवगत करवाया गया कि वार्षिक ऋण योजना 2020-21 के तहत अभी तक कुल लक्ष्यों का लगभग 70 प्रतिशत प्राप्त किया गया है।

भारतीय रिजर्व बैंक के सहायक महाप्रबन्धक स्वर ग्रोवर ने बैंकों को समय-समय पर जारी होने वाले दिशा-निर्देशों की जानकारी दी तथा इनकी अनुपालना का आग्रह करते हुए सभी बैंक अधिकारियों से खंड स्तरीय बैंकर्ज समिति की प्रत्येक कार्यशाला में उपस्थित रहने के निर्देश दिए।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published.