Himachal Tonite

Go Beyond News

ग्राम पंचायतें विकास का मूल आधार-डाॅ. सैजल

सोलन,दिसम्बर 18स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि ग्राम पंचायतें विकास का मूल आधार हैं और पंचायती राज निर्वाचन में हम सभी को शिक्षित एवं ईमानदान व्यक्तियों का चयन करना होगा। डाॅ. सैजल आज सोलन विधानसभा क्षेत्र के तहत कण्डाघाट उपमण्डल की ग्राम पंचायत झाझा में 31 लाख रुपए की लागत से निर्मित पंचायत भवन का लोकार्पण करने के उपरान्त उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे।

डाॅ. सैजल ने कहा कि प्रदेश में शीघ्र आयोजित होने वाले पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों में योग्य व्यक्ति का चयन न केवल विकास का आधार बनेगा अपितु केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने का साधन भी होगा। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि पंचायतों के विकास की इस कुंजी के चयन के लिए बिना किसी दबाव के लिए अपने मत का प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाएं विकास को जन-जन तक पहुंचाने का सशक्त साधन हैं। इसलिए यह आवश्यक है कि इन संस्थाओं में पात्र एवं योग्य व्यक्ति चुनकर आएं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार बिना किसी भेदभाव के सब जिलों का समान विकास सुनिश्चित बना रही है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गत 02 दिनों में सोलन जिला में ही 280 करोड़ रुपये की विभिन्न योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए हैं। उन्होंने गत दिवस सोलन विधानसभा क्षेत्र के लिए 66 करोड़ रुपए की  विभिन्न परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए। जबकि 16 दिसम्बर को मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत छावशा में 85 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाले पर्यटन, आतिथ्य और सूचना प्रोद्यौगिकी के उत्कृष्टता केन्द्र की आधारशिला रखीं। यह देश का चैथा और प्रदेश का ऐसा प्रथम केन्द्र है। इसके केन्द्र के निर्मित होने से युवाओं के हुनर को निखारकर उन्हें बेहतर रोजगार प्रदान करने में सहायता मिलेगी।

डाॅ. सैजल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अर्की विधानसभा क्षेत्र के लिए लगभग 102 करोड़ रुपए की तथा कसौली विधानसभा क्षेत्र के लिए 27 करोड़ रुपए की योजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं के निर्माण का समय निर्धारित किया गया है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने कहा कि शिमला-कालका रेल मार्ग के निर्माण में अविस्मरणीय योगदान देने के लिए बाबा भलकू के गांव झाझा को विश्व स्तर पर जाना जाता है। यह क्षेत्र पुष्प उत्पादन के लिए भी प्रसिद्ध है।

आयुष मंत्री ने सभी से आग्रह किया कि कोविड-19 के दृष्टिगत नियमों का पालन करें। उन्होंने कहा कि नाक से लेकर ठोडी तक मास्क पहनने, सार्वजनिक स्थानों पर कम से कम 02 गज की दूरी बनाकर रखने और बार-बार अपने हाथ साबुन अथवा एल्कोहल युक्त सेनिटाइजन से धोने से कोरोना महामारी से बचा जा सकता है।

डाॅ. सैजल ने क्षेत्र की ग्राम पंचायत दंघील के सेवला में कम वोल्टेज की समस्या से निपटने के लिए विद्युत ट्रांसफार्मर स्थापित करने का आश्वासन दिया। उन्होंने नए पंचायत कार्यालय में केबिन निर्माण के लिए 3 लाख रुपए तथा गांव पवाश से चिवथ तक संपर्क मार्ग के लिए 2 लाख रुपए प्रदान करने का आश्वासन दिया।

प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य एवं सोलन से विधानसभा चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार रहे डाॅ. राजेश कश्यप ने क्षेत्र में गत 03 वर्षों में हुए विकास की जानकारी दी तथा विभिन्न मांगों का ब्यौरा प्रस्तुत किया।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *