Himachal Tonite

Go Beyond News

प्रदर्शनियों से बुनकरों की एक पहचान होती हैं स्थापित – भारद्वाज

शिमला, 07 अगस्त

शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य, विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज राष्ट्रीय हथकरघा दिवस के उपलक्ष हिमाचल प्रदेश राज्य हथकरघा और हस्तशिल्प विकास सहकारी संघ लिमिटेड द्वारा 7 से 16 अगस्त तक गेयटी थिएटर में आयोजित प्रदर्शनी एवं बिक्री केंद्र का शुभारंभ किया।
उन्होंने कहा कि इस दिवस का उद्देश्य हथकरघा उद्योग के महत्व और देश के सामाजिक आर्थिक विकास में इसके योगदान के बारे में जागरूकता प्रदान करना है।
उन्होंने कहा कि राज्य हथकरघा और हस्तशिल्प निगम द्वारा हर वर्ष इस प्रकार के आयोजन करते आ रही है जिससे सारे प्रदेश के बुनकरों को इस प्रदर्शनी एवं बिक्री केंद्र के माध्यम से उचित स्थान प्राप्त होता है। यह एक ग्रामीण क्षेत्रों में किए जाने वाले पारंपरिक कार्यों का लोगों के बीच पहुंचाने का उचित माध्यम है। इस प्रकार की प्रदर्शनियों से बुनकरों की एक पहचान स्थापित होती हैं जिससे उनको और अधिक कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करती हैं।
उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार ऐसे लोगों को बढ़ावा देने के लिए कृतसंकल्प है राज्य सरकार द्वारा कारीगरों द्वारा तैयार की गई चीजों को बेचने के लिए फ्लिपकार्ट के साथ समझौता ज्ञापन हस्तांक्षरित किया गया है ताकि उनके उत्पादों की बिक्री पूरे देश भर में हो सके।
उन्होंने कहा कि हमे इस क्षेत्र में और अधिक बढ़ावा देने की आवश्यकता है ताकि बुनकरों और कारीगरों की आय अर्जन में वृद्धि हो सके। शहरी विकास मंत्री ने इस आयोजन के लिए निगम की सराहना की तथा सभी को बधाई भी दी।
राज्य हथकरघा और हस्तशिल्प निगम उपाध्यक्ष संजीव कटवाल ने कहा कि कार्यक्रम को 1 दिन में सीमित न रखकर 10 दिन तक मनाने का निर्णय लिया गया है जिसमें प्रदेश के 30 बुनकर भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि निगम द्वारा प्रत्येक प्रतिभागी को प्रतिदिन 500 रुपए एवं 4000 रुपए ढूलाई के रूप में प्रदान किए जाएंगे।
प्रबंध निदेशक कुमुद सिंह ने निगम द्वारा की जा रही गतिविधियों पर प्रकाश डाला तथा पिछले साढ़े चार सालों की उपलब्धियों से अवगत करवाया।
इस अवसर पर शिमला मंडल अध्यक्ष राजेश शारदा, जीएम डीआईसी योगेश गुप्ता एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.