Himachal Tonite

Go Beyond News

सायरी में आई.टी.आई भवन एक वर्ष में होगा तैयार 

आई.टी.आई में व्यवहारिक एवं रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम आरम्भ करने पर बल

सोलन,दिसम्बर 19 – तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक एवं औद्योगिक प्रशिक्षण, जनजातीय विकास, सूचना प्रौद्योगिकी तथा जन शिकायत निवारण मंत्री डाॅ. रामलाल मारकण्डा ने कहा कि प्रदेश सरकार औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में ऐसे पाठ्यक्रम आरम्भ कर रही है जो व्यवहारिक एवं रोजगारोन्मुखी हों। डाॅ. मारकण्डा आज सोलन जिला के कण्डाघाट विकास खण्ड के सायरी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सायरी का निरीक्षण करने के उपरान्त औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के अध्यापकों एवं अन्य से विचार-विमर्श कर रहे थे।

डाॅ. मारकण्डा ने कहा कि सायरी में एक वर्ष में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का नया भवन तैयार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यहां प्री-फैबरीकेटिड संरचना निर्मित की जाएगी। उन्होंने यहां अगले वर्ष से दो और टेªड आरम्भ करने का आश्वासन भी दिया। वर्तमान में आई.टी.आई सायरी में इलैक्ट्रीशियन और फैशन डिजाईनिंग के पाठ्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

उन्होंने आई.टी.आई सायरी के लिए चयनित 09 बीघा भूमि का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि आई.टी.आई भवन सायरी के निर्माण के लिए 1.23 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं तथा आवश्यकतानुसार अतिरिक्त धनराशि भी उपलब्ध करवाई जाएगी।
तकनीकी शिक्षा मन्त्री ने कहा कि युवाओं को ऐसी व्यवहारिक जानकारी प्रदान की जानी आवश्यक है जो उन्हें वर्तमान की आवश्यकताओं के अनुरूप तैयार करे। इसके लिए उद्योग जगत की मांग के अनुरूप तथा आधुनिक टेªड आरम्भ करने पर विशेष बल दिया जा रहा है।

डाॅ. मारकण्डा ने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार युवा पीढ़ी को आत्मनिर्भर बनाने के लिए योजनाबद्ध कार्य कर रही है। स्टार्टअप इण्डिया योजना तथा मुख्यमन्त्री स्वावलम्बन योजना के तहत युवाओं को अपना स्वरोजगार आरम्भ करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमन्त्री स्वावलम्बन योजना के तहत प्रदेश में अभी तक 936 इकाईयां स्थापित की गई हैं और 47.78 करोड़ रुपए उपदान के रूप में प्रदान किए गए हैं।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published.