Himachal Tonite

Go Beyond News

सैंज नर्सरी केन्द्र का औचक निरीक्षण

शिमला, 28 नवम्बर – सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं को समय रहते पूर्ण करें अधिकारी यह बात आज वन एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया द्वारा ठियोग के सर्किट हाउस में उपमण्डल ठियोग अधिकारियों के साथ पूर्ण सामाजिक दूरी का ध्यान रखते हुए समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने के उपरांत कही।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में विकास के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही है। इन योजनाओं का लोगों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके, इसके लिए अधिकारियों का दायित्व बनता है कि वह इन योजनाओं का लाभ लोगों को प्रदान करने के लिए अपनी सक्रिय भूमिका निभाए तथा सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी आमजन तक पहुंचाने में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें।

उन्होंने आगामी बर्फबारी के दौरान विद्युत आपूर्ति को सुचारू बनाए रखने के लिए भी विभाग के अधिकारियों को आदेश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना तथा उपमण्डल ठियोग में किए जा रहे अन्य सड़क कार्यों में अधिकारियों को आदेश दिए कि वह कार्य की गुणवत्ता का ध्यान रखते हुए क्षेत्र में सड़कों के कार्य को समय रहते पूर्ण करवाएं।
इस दौरान उनके द्वारा सैंज नर्सरी केन्द्र का औचक निरीक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि इस नर्सरी केन्द्र को जायका प्रोजेक्ट के तहत स्तरोन्नत किया गया है।

इस नर्सरी केन्द्र का क्षेत्रफल पहले डेढ़ हेक्टेयर था, जिसे अब पोजेक्ट के तहत ढ़ाई हेक्टेयर कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पहले इस नर्सरी केन्द्र की क्षमता ढ़ाई लाख पौधों की थी, जायका प्रोजेक्ट के तहत बढ़ाकर 4 लाख 20 हजार पौधों की क्षमता का केन्द्र बना दिया गया है।

उन्होंने कहा कि इस नर्सरी को सेन्टर नर्सरी के रूप में विकसित किया जाएगा और आगामी दिनों मंे नर्सरी केन्द्र को आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण किया जाएगा। उन्होंने विभाग के उच्च अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस नर्सरी केन्द्र में जहां देवदार, बान, तोषी, चिल, मौरू नर्सरी की प्रजातियां तैयार की जाती है, उसी तरह उन्होंने आदेश दिए कि स्थानीय लोगों को आवश्यकता अनुसार नर्सरी के पौधों को भी तैयार किया जाए तथा जरूरत अनुरूप उन्हें स्थानीय जनता में वितरित किया जाए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में वनों में वृ़क्षों का नवीनीकरण कर प्राकृतिक संतुलन बनाना है। उन्होंने इस नर्सरी केन्द्र में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा किए जा रहे कार्यों की भी सराहना की।

उन्होंने कोविड महामारी के बढ़ते प्रकोप के विषय में कहा कि सरकार द्वारा 25 नवम्बर से लेकर 27 दिसम्बर, 2020 तक हिम सुरक्षा अभियान आरम्भ किया गया है। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य हर गांव में रह रहे हर व्यक्ति की कोरोना महामारी की जांच करना है।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.