Himachal Tonite

Go Beyond News

अभिभावकों के समर्थन में कांग्रेस

शिमला,8 दिसम्बर – युवा कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष यदोपति ठाकुर ने निजी स्कूलों की मनमर्जी पर रोष प्रकट करते हुए कहा है कि अगर उन्होंने फीस वसूली के नाम पर अपनी जबरन उगाही बंद नही की तो युवा कांग्रेस उनके खिलाफ कड़ा रुख अपनाते हुए किसी बड़े आंदोलन से भी पीछे नही हटेगी।उन्होंने कहा है कि अभिभावकों से जिस प्रकार वार्षिक शुल्क वसूला जा रहा है वह पूरी तरह से गैरवाजिब है व युवा कांग्रेस इसका कड़ा विरोध करती है।

यदोपति ठाकुर ने आज प्रदेश सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि पिछले 9 महीनों से एक तरफ कोरोना का कहर,दूसरी तरफ स्कूलों के बंद होने के बाबजूद अभिभावकों से फीस के अतिरिक्त अन्य हजारों रुपयों के वार्षिक शुल्कों की बसूली इन अभिभावकों के साथ अन्याय है।उन्होंने कहा है कि यह अभिभावक पिछले कई महीनों से इस बसूली का कड़ा विरोध प्रदर्शन कर रहें है पर सरकार आंखे मूंदे बेठी है।उन्होंने कहा है कि सरकार का यह रवैया पूरी तरह गैरजिम्मेदाराना है।

यदोपति ठाकुर ने सरकार के साथ इन निजी स्कूलों की सांठगांठ का अंदेशा जताते हुए कहा है कि निजी स्कूलों की मनमानी के आगे नतमस्तक नज़र आ रही है।उन्होंने कहा है कि सरकार जांच करे कि क्या स्कूल प्रबंधन अपने अध्यापकों व स्टाफ को पूरा बेतन भी दे रहें है या केवल अपना खजाना ही भर रहें है।

यदोपतिने शिक्षा मंत्री को आगह किया है कि अगर उन्होंने जल्द ही इन निजी स्कूलों की इस वसूली को नही रोका तो युवा कांग्रेस उनके घेराव से भी पीछे नही हटेगी।उन्होंने सरकार द्वारा बार बार रिपोर्ट व बैठकों के हवाले पर हैरानी जताते हुए कहा है कि यह सब लोगों को गुमराह किया जा रहा है व सरकार को कोई भी स्पष्ट आदेश इन स्कूलों को देने चाहिए जिससे अभिभावकों को इस संकट की घड़ी में आर्थिक राहत मिल सकें।उन्होंने अनावश्यक शुल्कों पर तुरंत रोक लगाते हुए मुख्यमंत्री को स्पष्ट आदेश देने चाहिए।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.