Himachal Tonite

Go Beyond News

जागरूकता साइकिल रेस के साथ सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ

यातायात नियमों के उल्लंघन और अनदेखी से बढ़ता है दुर्घटनाओं का ग्राफ- उपायुक्त

चंबा, 18 जनवरी – परिवहन विभाग  और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को जिला मुख्यालय पर साइकिल रेस के साथ सड़क सुरक्षा माह का आगाज हुआ। इस मौके पर उपायुक्त चम्बा डीसी राणा नेे बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। जबकि अतिरिक्त उपायुक्त मुकेश रेपस्वाल, एसडीएम शिवम प्रताप सिंह और क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह विशेष रूप से मौजूद रहे।

उपायुक्त डीसी राणा ने हरी झंडी दिखाकर रेस को रवाना किया। होटल इरावती से आरंभ हुई साइकिल रेस हरदासपुरा, बालू और भरमौर चौक से होते हुए वापिस होटल इरावती पहूंचकर संपन्न हुई। जिसमें पंचम महाजन ने पहला, ईशान सम्मी ने दूसरा और शाश्वत अबरोल ने तीसरा स्थान हासिल किया। प्रशासन की ओर से विजेताओं व प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर मुख्यातिथि उपायुक्त डीसी राणा ने कहा कि यातायात नियमों का पालन अपनी दिनचर्या में शामिल करना जरूरी है। वाहन चलाते समय यातायात नियमों का पालन अवश्य करें। यातायात नियमों के उल्लंघन के कारण सड़क दुर्घटनाओं का ग्राफ बढ़ रहा है। सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करने पर ही सुरक्षित रहा जा सकता है। उन्होंने यात्री वाहनों में प्रैशर हॉर्न व कोई संगीतमयी उपकरण न लगाने की बात भी कही। साथ ही ब्लो हॉर्न के स्थान पर नो हॉर्न को बढ़ावा देने पर बल दिया।

उपायुक्त ने कहा कि शराब व अन्य नशीले पदार्थ का सेवन कर वाहन किसी भी सूरत में न चलाएं।

उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा माह के दौरान आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों का प्रमुख उद्देश्य वाहन चालकों और आम जनमानस में सड़क सुरक्षा से जुड़ी सावधानियों के प्रति जागरूकता पैदा करना है। जब हम सड़क सुरक्षा के सभी नियमों का पालन करते हैं तो इससे हम ना केवल अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं बल्कि दूसरों को भी दुर्घटना के जोखिम से दूर रखने में सक्षम रहते हैं।

इस मौके पर क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह ने वर्तमान के सर्दी के मौसम में वाहन चलाते समय विशेष सावधानी बरतने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हर वर्ष धुंध के कारण होने वाले सड़क हादसों में कई लोग काल का ग्रास बन जाते हैं। धुंध व फिसलन के इस सीजन में ड्राइविंग के दौरान कई सावधानियां बरतने की आवश्यकता है।

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ने यह भी बताया कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के शुभारंभ के बाद 19 जनवरी को क्षेत्र के प्रबुद्ध लोगों की सहभागिता के साथ कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 20 जनवरी का फोकस सड़क पर पैदल चलने वालों की सुरक्षा पर रहेगा जिनमें बच्चे और बुजुर्ग केंद्रित रहेंगे। 21 को तेज रफ्तार के बुरे प्रभाव, 22 को केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय के दिशा निर्देश, 23 को ट्रक और टैक्सी चालकों, 24 को बैरियर और टोल प्लाजा, 25 को परिवहन विभाग द्वारा दी जा रही सेवाओं को प्रदर्शित करने, 26 को विभिन्न गतिविधियां आयोजित करके गणतंत्र दिवस मनाने, 27 को हेलमेट पहनने के फायदों, 28 को वाहनों की फिटनेस, 29 को वाहन चालकों को गुलाब का फूल भेंट करने, 30 को शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालकों, 31 को क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी द्वारा सड़क सुरक्षा को लेकर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने पर आधारित गतिविधियां होंगी।

इसी तरह 1 फरवरी से लेकर अभियान के आखिरी दिन 17 फरवरी तक भी इस अभियान के तहत अन्य गतिविधियों को आयोजित किया जाना है। उन्होंने कहा कि एसडीएम डलहौजी, उप मंडलीय पुलिस अधिकारी डलहौजी और सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी द्वारा तुन्नूहट्टी में भी जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें आम लोगों व वाहन चालकों को यातायात नियमों की अनुपालना हमेशा सुनिश्चित बनाने के लिए कहा गया।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.