Himachal Tonite

Go Beyond News

 9 करोड़ 75 लाख की राशि की पेयजल और सिंचाई योजनाओं के शिलान्यास

चुवाड़ी, 9 नवंबर-
जल शक्ति, राजस्व, बागवानी एवं सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने आज भटियात विधानसभा क्षेत्र के लिए 9 करोड़ 75 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाली 6 पेयजल और सिंचाई योजनाओं की आधारशिला रखने के बाद अपने संबोधन के दौरान कहा कि पेयजल योजना कुडेरा से ककीरा पर 2 करोड़ 96 लाख, बहाव सिंचाई योजना खगल सिहुंता पर एक करोड़ 80 लाख, पेयजल योजना ऊपरली व निचली बड़िगी पर एक करोड़ 17 लाख, बहाव सिंचाई योजना अप्पर समोट पर 1 करोड़ 20 लाख, उठाऊ सिंचाई योजना नड्डल पर 1 करोड़ 59 लाख जबकि उठाऊ सिंचाई योजना सारना पर 1 करोड़ 3 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी। महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि भटियात में बहने वाले नालों की चैनेलाइजेशन का कार्य भी किया जाएगा ताकि किसानों की भूमि को  भूमि कटाव से बचाया जा सके। उन्होंने जल शक्ति विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि चैनेलाइजेशन के कार्य की डीपीआर को जल्द तैयार करें ताकि इस परियोजना के लिए भी आवश्यक धनराशि मुहैया की जा सके।
महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि भटियात क्षेत्र में धान की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है। ऐसे में किसानों को इन सिंचाई स्कीमों से आने वाले समय में बहुत बड़ा लाभ मिलने वाला है। जल शक्ति मंत्री ने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों को उन स्कीमों की डीपीआर बनाने के भी निर्देश दिए जो वर्तमान में कार्यशील नहीं हैं और उन्हें दोबारा से चालू करने के लिए मरम्मत कार्य किया जाना है।
महेंद्र सिंह ठाकुर ने लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाले समय में प्रदेश के आर्थिक भविष्य को तय करने में बागवानी बहुत बड़ी भूमिका निभाएगी। उन्होंने बताया कि 5 हजार फुट की ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सेब और अखरोट की बहुत बड़ी संभावनाएं हैं। बागवानों को इटली और अमेरिका से आयात किए गए सेब के पौधे विभाग द्वारा उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश शिवा परियोजना के प्रथम चरण में हिमाचल प्रदेश के 28 खंडों को शामिल किया गया था। जबकि दूसरे चरण में प्रदेश के अन्य खंडों को भी शामिल किया जाएगा। इस परियोजना के तहत 5 हजार  फुट की ऊंचाई से कम वाले क्षेत्रों में बागवानी विकास सुनिश्चित किया जा रहा है।
राजस्व विभाग की चर्चा करते हुए महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि लोगों को अपने राजस्व संबंधी सभी कार्यों को करवाने के लिए बार-बार कार्यालयों के चक्कर न लगाने की व्यवस्था स्थापित करने के लिए  कमेटियों का गठन किया गया है। यह कमेटियां राजस्व संबंधी मामलों के त्वरित निपटारे को लेकर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगी। राजस्व मामलों के त्वरित समाधान और लंबित मामलों के एकमुश्त निस्तारण करने के लिए ये एक बहुत बड़ा ऐतिहासिक कदम है।
उन्होंने कहा कि क्षेत्र के चौमुखी विकास और लोगों को सभी बुनियादी जरूरतें मुहैया करने के लिए धन की कोई भी कमी नहीं है। राज्य सरकार की यह प्राथमिकता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में सुविधाओं के सभी आधारभूत ढांचे सुदृढ़ हों। भटियात के विधायक विक्रम सिंह जरियाल ने भटियात विधानसभा क्षेत्र की सिंचाई और पेयजल योजनाओं के लिए धनराशि मुहैया करने के लिए जल शक्ति मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि चुवाड़ी में सीवरेज योजना का कार्य प्रगति पर है। इस योजना के लिए भी सरकार द्वारा 20 करोड़ की राशि उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में समूचे  विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपए की विभिन्न विकासात्मक योजनाएं प्रगति पर हैं जिनमें कई संपर्क सड़कें भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र के जो गांवों अभी भी सड़क सुविधा से वंचित हैं उन्हें सड़क सुविधा मुहैया करने के लिए विशेष कार्य योजना के तहत कार्य किया जा रहा है।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.