Himachal Tonite

Go Beyond News

जिला कांगड़ा के लिए प्राप्त हुई 8600 कोविशील्ड वेक्सीन डोज

धर्मशाला 15 जनवरी: उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशानुसार कांगड़ा जिला में कोविड-19 टीकाकरण का प्रथम चरण 16 जनवरी, 2021 से आंरभ होगा। उपायुक्त आज सोमवार को डीआरडीए के सभागार में आयोजित जिला स्तरीय टास्क फोर्स बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।

उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा के लिए 8600 कोविशील्ड वेक्सीन डोज प्राप्त हुई हैं जिसमें से 7800 डोज कांगड़ा जिला के स्वास्थ्य कर्मियों के लिए और 800 डोज सेना से सम्बन्धित स्वास्थ्य कर्मिर्यो के लिए है। उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा में प्रथम चरण के दौरान 13653 स्वास्थ्य कर्मियों तथा 14000 फ्रटंलाईन कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 31 मार्च, 2021 तक इन सभी स्वास्थ्य व फ्रटंलाइन कर्मियों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाएगा।

उपायुक्त ने बताया कि राज्य सरकार के दिशा-निर्देशानुसार जिला में कोविड-19 टीकाकरण का प्रथम चरण 16, जनवरी 2021 से आंरभ किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस टीकाकरण को सफल बनाने के लिए पूर्ण तैयारी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के प्रथम चरण के लिए ज़िला कांगड़ा के चार चयनित स्थानों डॉ. राजेन्द्र प्रसाद मैडिकल कॉलेज टांडा, सिविल अस्पताल पालमपुर, सिविल अस्पताल शाहपुर और सिविल अस्पताल ज्वालामुखी में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में यह टीकाकरण स्वास्थ्य कर्मचारियों को दिया जा रहा है। डॉ. राजेन्द्र प्रसाद मैडिकल कॉलेज टांडा सहित अन्य सभी तीन स्थानों पर 100-100 कुल 400 स्वास्थ्य कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह टीकाकरण पूर्णतयः स्वैच्छिक है।

उपायुक्त ने बताया कि जिला में निर्धारित इन चार स्थानों पर प्रथम चरण में 16 जनवरी से दो फरवरी, 2021 तक 6750 लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए ड्राई रन में की गई तैयारियों को आधार बनाकर कार्य सफलतापूर्वक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए राज्य सरकार के निर्देशानुसार चरनबद्ध कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण के टीकाकरण के उपरांत द्वितीय चरण का टीकाकरण 28 दिन बाद किया जाएगा। उन्होंने कहा कि द्वितीय चरण में केवल उन्हीं का टीकाकरण किया जाएगा जिन्हें प्रथम चरण में टीका लगा है।

उपायुक्त ने बताया कि टीकाकरण अभियान के पांच सदस्यों की टीम का चयन कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष से कम आयु के बच्चे, गर्भवती महिलाओं तथा स्तन पान करने वाली महिलाओं का टीकाकरण नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के उपरांत वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति को 30 मिनट तक टीकाकरण केन्द्र में रखा जाएगा और कोई दुष्प्रभाव दिखने पर इलाज के लिए चिकित्सकों की टीम मौके पर उपलब्ध रहेगी।

उपायुक्त ने टीकाकरण के सफल कार्यान्वयन के लिए सभी स्तरों पर उचित प्रबन्धन और समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.गुरदर्शन गुप्ता ने बैठक का संचालन किया और कोविड-19 टीकाकरण अभियान बारे विस्तृत जानकारी दी।

इस अवसर पर जिला चिकित्सा अधिकारी डॉ. विक्रम कटोच, डीएसपी बलदेव दत्त, महा प्रबन्धक उद्योग राजेश कुमार, आरटीओ डॉ. संजय धीमान, जिला कार्यक्रम अधिकारी रणजीत कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published.