Himachal Tonite

Go Beyond News

u-WIN platform को हिमाचल प्रदेश में आज नियमित टीकाकरण के अंतर्गत शुरु

Image Source Internet

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि हिमाचल प्रदेश में भारत का सार्वभौमिक टीकाकरण कार्यक्रम; यूआईपी सालाना 1 लाख से अधिक नवजात शिशुओं और लगभग 1.27 लाख गर्भवती महिलाओं तक पहुंचने का लक्ष्य रखता है। हिमाचल प्रदेश में कुल 390 कोल्ड चेन प्वाइंट हैं जिनमें से पहले चरण में जिला सोलन और सिरमौर में प्रायोगिक रूप से चलाया जाएगा जिसमें 42 कोल्ड चेन प्वाइंट हैं। यूविन प्लेटफॉर्म प्रत्येक गर्भवती महिलाए नवजात बच्चे और किशोर को टीकाकरण के लिए ट्रैक करने की सुविधा के लिए एक डिजिटल समाधान है। प्रणाली टीकाकरण सत्रों की योजना बनाने लाभार्थियों के पंजीकरण टीकाकरण की स्थिति को डिजिटल रूप से वास्तविक समय के आधार पर टीकाकरणकर्ता द्वारा सेवा वितरण के अंतिम मील से अपडेट करनेए यूआईपी के लिए सभी डेटा की रिकॉर्डिंग और रिपोर्टिंग की अनुमति देगी। u-WIN platform को हिमाचल प्रदेश में आज नियमित टीकाकरण के अंतर्गत शुरु कर
दिया गया है। इस portal से सौजस सैजल को MCH सैंटर सोलन एंव मयंक को स्वास्थ्य केंन्द्र साधना घाट जिला
सिरमौर में e-certificate बनाया गया ।
u-WIN को ABDM के अनुसार हेल्थकेयर प्रोफेशनल रजिस्ट्री (HPR), हेल्थकेयर फैसिलिटी रजिस्ट्री (HFR) और ABHA को जोड़ने के लिए डिज़ाइन किया गया है। u-WIN सभी मौजूदा प्रबंधन सूचना प्रणालियों के साथ अंतर. संचालनीय होगा। प्लेटफॉर्म में प्रत्येक शिशु और गर्भवती महिला को पंजीकृत करने और टीकाकरण करने के लिए एक वैक्सीनेटर मॉड्यूल और प्रत्येक गर्भावस्था के परिणाम को रिकॉर्ड करने और प्रत्येक बच्चे को जन्म के समय ही पंजीकृत करने के लिए एक डिलीवरी मॉड्यूल शामिल है। u-WIN में नागरिकों के लिए एक इंटरैक्टिव यूजर इंटरफेस शामिल होगा और प्रासंगिक टीकाकरण प्रमाण पत्र और समाज सेवकों के साथ साथ कार्यक्रम प्रबंधकों के लिए मॉड्यूल प्रदान करेगा। यू.विन को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा और जीआईएस मैपिंग आशा कार्यकर्ता मॉड्यूल और अन्य उपयोगिताओं को सफल पायलट और स्केल. अप के बाद पेश किया जाएगा।
इसलिए u-WIN प्रणाली टीकाकरण सेवाओं के प्रभावी प्रबंधन के लिए एक सामान्य डेटाबेस प्रदान करेगी। यह टीके के बीच उचित अंतराल की सुविधा, डिजिटल सत्यापन और लाभार्थियों की ट्रैकिंग, टीकाकरण कार्यक्रम में निरंतरता को बढ़ावा देने और लाभार्थियों के साथ संचार द्वारा बेहतर टीकाकरण कवरेज का भी समर्थन करेगा। यह मिश्रित (ऑफ़लाइन और ऑनलाइन) पंजीकरण, टीकाकरण की तत्काल पावती, सुविधाजनक स्लॉट – बुकिंग आदि सहित अपनी विभिन्न विशेषताओं के साथ इन लक्ष्यों का समर्थन करेगा।
भारत सरकार बुनियादी और आवश्यक सेवाओं तक सार्वभौमिक और समान पहुंच को बढ़ावा देकर अपने सभी नागरिकों के लिए स्वास्थ्य और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। (UNDP) यूएनडीपी स्मार्ट गवर्नेस के लिए नवीन भागीदारी तंत्र और तकनीकी हस्तक्षेप के माध्यम से मजबूत संस्थानों का निर्माण करके इन लक्ष्यों का समर्थन करता है।
इस दृष्टि के एक भाग के रूप में इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (eVIN) एक डिजिटल प्रौद्योगिकी आधारित
वैक्सीन रसद प्रबंधन उपकरण सफलतापूर्वक शुरू किया गया है और देश के 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के
29,500 से अधिक कोल्ड चेन बिंदुओं पर चल रहा है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम से तकनीकी और कार्यान्वयन
सहायता के साथ स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय | राष्ट्रीय कोविड. 19 टीकाकरण अभियान का समर्थन करने के
लिए लाभार्थियों और टीकाकरण के वास्तविक समय पर नज़र रखने और प्रबंधन के लिए एक डिजिटल प्लेटफॉर्मए
ईवीआईएन (eVIN) का सफलतापूर्वक लागू किया गया है। UIP और COVID टीकों के निर्बाध प्रबंधन को
सुनिश्चित करने में eVIN और CoWIN की सीख और उपलब्धियों का लाभ उठाते हुए MoHFW ने देश में
नियमित टीकाकरण सेवाओं को डिजिटल बनाने के लिए मौजूदा eVIN और CoWIN प्लेटफार्मों पर आधारित एक
तीसरा स्तंभ बनाने की योजना बनाई है। वर्तमान में U-WIN प्लेटफॉर्म को देश के 65 चिन्हित जिलों में चलाया जाएगा
जिसमें शहरी और ग्रामीण सेटिंग्स का प्रतिनिधित्व किया जाएगा ताकि अनुकूलताए पहुंचाए क्षमता निर्माण आवश्यकताओं
और प्लेटफॉर्म की प्रमुख विशेषताओं का परीक्षण किया जा सके।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *