Himachal Tonite

Go Beyond News

कांग्रेस में अब युवाओं को आगे आने की जरूरत – वीरभद्र सिंह

शिमला, जनवरी 5 – अखिल भारतीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य एवं प्रदेश मामलों के प्रभारी राजीव शुक्ला ने पार्टी नेताओं से आगामी 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए कमर कसने व आपसी तालमेल के साथ मैदान में डट जाने को कहा है।उन्होंने कहा है कि प्रदेश में होने जा रहें पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों बारे फीडबैक भी लिया।

आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा प्रदेश कांग्रेस राजनैतिक मामलें, चुनाव रणनीति कमेटी व कोआर्डिनेशन कमेटी की पहली संयुक्त बैठक की अध्यक्षता करते हुए राजीव शुक्ला ने पार्टी की गतिविधियों की जानकारी ली।उन्होंने पार्टी नेताओं से आपसी तालमेल बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा की प्रदेश में कांग्रेस बेहतर काम कर रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने अपने सम्बोधन में संगठनात्मक गतिविधियों की जानकारी देते हुए कहा की प्रदेश कांग्रेस ने इन चुनावों में कांग्रेस का मत विभाजन न हो इसके लिए प्रदेश कांग्रेस पूरे तालमेल के साथ काम कर रही है।उन्होंने कहा की भाजपा ने इन चुनावों में अपने राजनैतिक लाभ के लिए बड़े पैमाने पर इसके आरक्षण रोस्टर से छेड़ छाड़ की है।उन्होंने कहा कि बावजूद इसके कांग्रेस पूरी सक्रीयता से लोकतंत्र के इस पूर्व में अपनी भूमिका निभा रही है।

बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अनुशासन पर जोर देते हुए कहा कि कांग्रेस में अब युवाओं को आगे आने की जरूरत है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस अच्छा काम कर रही है।उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी को भाजपा से मुकाबला करने को अभी से तैयार होना होगा।

प्रतिपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने इस दौरान कहा कि कांग्रेस मजबूती के साथ सत्तारूढ़ भाजपा के हर दुष्प्रचार का सदन के अदंर और बाहर मुंह तोड़ जबाब दे रही है।उन्होंने कहा कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों व निर्णयों के खिलाफ कांग्रेस के विरोध प्रदर्शनों को लोगों का भारी जनसमर्थन मिला है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में पूरी तरह एकजुट व मजबूत है।

प्रदेश कांग्रेस महासचिव संगठन रजनीश किमटा जो इन कमेटियों के संयोजक है ने बैठक का संचालन किया और बैठक में उपस्थित नेताओं का बहुमूल्य सुझाब देने के लिए उनका आभार प्रकट किया।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *