Himachal Tonite

Go Beyond News

Jaypee University of Information Technology

प्रधानमंत्री मोदी अनुसूचित जाति वर्ग को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए सदैव प्रयासरत : सुरेश कश्यप

शिमला : भारतीय जनता पार्टी से सांसद व प्रत्याशी सुरेश कश्यप ने शिमला के कसुम्पति विधानसभा क्षेत्र अनुसूचित जाति मोर्चा सम्मलेन मैं भाग लिया। उन्होंने कहा आज भाजपा ने जो सम्मान अनुसूचित जाति को दिया है वो आज तक किसी पार्टी ने नहीं सोचा। उन्होंने कहा कि राष्टपति द्रोपदी मुर्मू, पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविद, हो या फिर कैबिनेट में मंत्रियों की संख्या हमेशा ही अनुसूचित जाति को अधिमान मिला है। उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा अनुसूचित जनजाति (एसटी) वर्ग के कल्याण के लिए आरंभ की गई विभिन्न योजनाओं का उल्लेख करते हुए दावा किया कि पिछले 10 वर्षों में समाज के इस वंचित वर्ग के लिए जितना काम हुआ है, वह छह दशकों के विपक्षी पार्टियों के शासन में भी नहीं हुआ।

उन्होंने कहा,आज एसटी वर्ग के लोग समाज का नेतृत्व कर रहे हैं और वे यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि जो समुदाय की जरूरतें हैं, वह पूरी हों।उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के 10 करोड़ लाभार्थियों में 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लोग हैं।उन्होंने कहा कि इससे इन वर्गों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है और उनके लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध हुए हैं।कश्यप ने कहा कि इसके अलावा ‘‘स्टैंडअप इंडिया’’ योजना के तहत भी आज एसटी, एससी और महिलाओं को ऋण की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

 

उन्होंने कहा पिछले 10 वर्ष में प्रधानमंत्री मोदी से पहले की जो सरकारें रहीं, खासकर विपक्ष की, उन्होंने अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग की अनदेखी की। जो कार्य लटके और अटके हुए थे, उन कार्यों को अगर देखे तो पहले के 55 वर्षों की बजाय पिछले 10 वर्षों में ज्यादा कार्य हुए।उन्होंने कहा कि एसटी और एससी वर्ग के छात्र-छात्राओं की बेहतर शिक्षा व्यवस्था के लिए मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद अत्यधिक बढ़ोतरी की।उन्होंने कहा कि इसके साथ ही प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत 7,300 करोड़ की लागत से 36,428 आदिवासी बाहुल्य गांवों को आदर्श ग्राम के रूप में विकसित किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने एससी व एसटी समाज के बच्चों की बेहतर शिक्षा के लिए एकलव्य मॉडल स्कूल पर जोर दिया और इस योजना के तहत आने वाले समय में 452 नए विद्यालय बनाए जाएंगे और 211 का नवीनीकरण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों की सोच थी कि यदि इन वर्गों को बुनियादी सुविधाएं दे दीं जाए तो उनकी जिम्मेदारी पूरी हो गई लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की सोच यह है कि उनके लिए सिर्फ बुनियादी सुविधाएं ही काफी नहीं है बल्कि उन्हें देश के विकास की मुख्यधारा से जोड़ा जाना सुनिश्चित करना होगा।इस अवसर पर पूर्व मंत्री रूप दास कश्यप जी, नाचन विधान सभा के विधायक व प्रदेश सचिव विनोद कुमार, अनुसूचित जाति प्रदेशाध्यक्ष राकेश डोगरा, ज़िला अध्यक्ष सत्यप्रकाश मानक, मण्डल अध्यक्ष मोहन लाल, भाजपा ज़िला अध्यक्ष प्रेम ठाकुर, भारत भूषण ठाकुर, प्रेम चौहान, रूपा शर्मा, अंजना शर्मा, विनती शर्मा सहित वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *