Himachal Tonite

Go Beyond News

Jaypee University of Information Technology

पापियों का साथ भगवान भी नहीं देताः सीएम 

भाजपा हिमाचल प्रदेश हितैषी नहीं, कुल्लू जिला के शमशी में गरजे ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू, रोड शो भी निकाला
शिमला। जिला कुल्लू के शमशी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने अहंकार में आकर विधानसभा में भगवान को चुनौती दी और कहा कि इस सरकार को भगवान भी नहीं बचा सकता। उन्होंने कहा कि पापियों का भगवान भी साथ नहीं देता है और आम आदमी का हित चाहने वाली प्रदेश सरकार को भगवान ने बचाया है। उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में क्रॉसवोटिंग करने के बाद छह बागी एक महीने तक प्रदेश से भागते रहे और एक महीने तक हिमाचल प्रदेश से बाहर रहे। हिमाचल प्रदेश लौटे तो सीआरपीएफ जवानों की सुरक्षा में, जो उन्हें नहीं बल्कि उनके ब्रीफ़केसों को सुरक्षा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर का गणित कमजोर है, इसलिए वह बार-बार अपनी सरकार बनने का दावा कर रहे हैं। लेकिन वर्तमान राज्य सरकार अपना पांच वर्ष का कार्यकाल अवश्य पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि जनता की भावनाओं को ख़रीदने का प्रयास करने वाली भाजपा को जनता कभी माफ़ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की संस्कृति को कलंकित करने वालों को सबक़ सिखाने का वक्त आ गया है और प्रदेश की जनता ही लोकतंत्र को बचा सकती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जयराम ठाकुर ने कंगना रणजीत के ख़िलाफ़ भी षडयंत्र रचा और उन्हें मंडी लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतार दिया। उन्होंने कहा कि कंगना अच्छी हीरोइन हैं, लेकिन उनके निर्देशक फ्लॉप हैं और फ़िल्म का फ्लॉप होना भी तय है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राजीव बिंदल कंगना के डायलॉग लिख रहे हैं और जयराम ठाकुर डायरेक्शन दे रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह राजनीति के हीरो हैं और उनकी जीत हो कर रहेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी विकास के नाम वोट मांग रही है और प्रदेश के मतदाता विकास को वोट देंगे।
ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि राज्य सरकार ने गाय के दूध का ख़रीद मूल्य 45 रुपए और भैंस के दूध का ख़रीद मूल्य 55 रुपए प्रति लीटर किया। उन्होंने कहा कि दूध के दाम में बढ़ौतरी तो अभी शुरूआत है और राज्य सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मनरेगा की दिहाड़ी बढ़ाकर 300 रुपए, न्यूनतम दिहाड़ी बढ़ाकर 400 रुपए की, विधवाओं के लिए योजनाएं बनाई, कर्मचारियों को चार प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया तथा उनका एरियर क्लीयर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए जयराम ठाकुर पांच वर्ष तक सोते रहे और प्रदेश की संपदा को लुटाते रहे। जबकि वर्तमान राज्य सरकार जाग रही है और चोर दरवाज़े बंद कर रही है, जिससे एक वर्ष में 2200 करोड़ रुपए कमाए।
उन्होंने कहा कि भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं है। राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन प्रदान की और हिमाचल भाजपा के नेता केंद्र के पास एनपीएस के 9000 करोड़ रुपए वापस लाने में अड़ंगे लगा रहे हैं। यही नहीं पिछले वर्ष आई आपदा के दौरान राज्य सरकार ने 48 घंटे में कुल्लू जिला में बिजली, पानी और सड़कों को अस्थाई रूप से बहाल किया और 75 हज़ार फँसे हुए पर्यटकों को सुरक्षित घर पहुँचाया। इतनी बड़ी आपदा के बीच कहीं भी अराजकता नहीं फैली और हिमाचल प्रदेश में अतिथि देवो भवः की संस्कृति का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि केंद्रीय सहायता के बिना ही राज्य सरकार ने 22 हजार परिवारों को फिर से बसाया और नियमों में बदलाव लाकर 4500 करोड़ रुपए का विशेष राहत पैकेज दिया। वहीं भाजपा नेता राजनीति करते रहे और केंद्र सरकार से प्रभावित परिवारों को आर्थिक मदद दिलाने का कोई प्रयास नहीं किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *