Himachal Tonite

Go Beyond News

Jaypee University of Information Technology

अपना विकास चाहते हैं बर्खास्त विधायक, जनता की परवाह नहीं: निशांत

जनभावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं ये नेता
कहा, प्रतिष्ठित पत्रिका ने भी अपने सर्वे में मुख्यमंत्री सुक्खू को बताया है सच्चा जननायक
हमीरपुर। युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता निशांत शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी और जनता को धोखा देने वाले धोखेबाज बर्खास्त विधायकों को अपने विधानसभा क्षेत्रों की जनता के हितों से कोई भी सरोकार नहीं है। ये धोखेबाज नेता केवल अपना विकास चाहते हैं। उन्हें जनता की बिलकुल भी परवाह नहीं है। उन्होंने केवल कांग्रेस पार्टी से ही दगा नहीं किया है, बल्कि जनभावनाओं से भी खिलवाड़ किया है।
यहां जारी एक बयान में निशांत शर्मा ने कहा कि ये दगाबाज लोग न तो जनता का दुख-दर्द समझ सकते हैं और न ही किसी राजनीतिक पार्टी के प्रति वफादार हो सकते हैं। यही लोग कुछ माह पहले भाजपा नेताओं तथा उनकी नीतियों को जमकर कोसते थे और आज अपने स्वार्थ के लिए भाजपा की गोद में बैठकर कांग्रेस के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं।
 युवा कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि हिमाचल प्रदेश जैसे शांतिप्रिय राज्य में राजनीति का स्तर इतना गिराने के बाद भी इन लोगों को शर्म नहीं आ रही है तथा जनता के बीच जाकर अब भी झूठ पर झूठ बोल रहे हैं। निशांत शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने मात्र 15 महीने के कार्यकाल में ही अपनी 5 गारंटियां पूरी कर दी हैं।
यही नहीं, भीषण आपदा के दौरान मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने जिस तरह प्रदेश को एक सशक्त एवं दूरदर्शी नेतृत्व प्रदान किया है, उसकी सभी प्रशंसा कर रहे हैं। उन्होंने राहत मैनुअल में एक ऐतिहासिक संशोधन करते हुए आपदा प्रभावित परिवारों के लिए राहत राशि में कई गुणा वृद्धि की है। आपदा में अपने घर गंवा चुके परिवारों को मुख्यमंत्री ने सात लाख रुपये का प्रावधान करके बहुत बड़ा निर्णय लिया है। निशांत शर्मा ने कहा कि आपदा से प्रभावी ढंग से निपटने, विकास के प्रति गतिशील दृष्टिकोण और जन कल्याण के प्रति अटूट प्रतिबद्धता के कारण ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू को प्रतिष्ठित पत्रिका आऊटलुक ने चेंजमेकर ऑफ दि ईयर-2023 सूची में स्थान दिया है। इस विशिष्ट सूची में शामिल होने वाले सुक्खू देश के एकमात्र मुख्यमंत्री हैं।
 युकां प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री के इन सराहनीय कार्योंे से प्रदेश की जनता भी परिचित है तथा धोखेबाज नेताओं के झांसे में आने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश की जनता भी खुलकर कहने लगी है कि दगाबाज नेता तो बिन पैंदे के लोटे हैं, जिन पर विश्वास ही नहीं किया जा सकता है।
  निशांत शर्मा ने कहा कि जनता अपना प्रतिनिधि इसलिए चुनती है कि वह क्षेत्र का विकास कर सके, लेकिन इन दगाबाज नेताओं ने वोट लेकर अपने विकास को प्राथमिकता दी, जिससे जनता भी अनजान नहीं है। उन्होंने कहा कि इन दगाबाज नेताओं को प्रदेश की जनता को श्वेत पत्र जारी कर बताना चाहिए कि इनके ऐसे क्या काम थे, जोकि पूरे नहीं हो पाए, ताकि जनता को सच्चाई का पता चल सके।
 निशांत शर्मा ने कहा कि आने वाले विधानसभा उपचुनाव में जनता ने इन नेताओं को कड़ा सबक सिखाने का मन बना लिया है, ताकि भविष्य में कोई भी नेता अपने स्वार्थों के लिए जनता से धोखा न कर सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *