Himachal Tonite

Go Beyond News

Jaypee University of Information Technology

भाजपा का धर्म सिर्फ सत्ता और संपत्ति : प्रियंका

भाजपा का धर्म सिर्फ सत्ता और संपत्ति : प्रियंकभाजपा का धर्म सिर्फ सत्ता और संपत्ति : प्रियंका

मोदी-शाह ने धनबल से चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश की

खरबपति मित्रों का कर्जा मोदी ने माफ किया, किसानों के लिए पैसा नहीं

ऊना/हमीरपुर। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने हिमाचल प्रदेश में चुनाव प्रचार के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर जोरदार जुबानी हमला बोला। उन्होंने ऊना जिले के गगरेट में चिंतपूर्णी माता और भगवान भोलेनाथ के जयकारे के साथ अपने भाषण की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि भाजपा का धर्म सिर्फ सत्ता और संपत्ति है। मोदी और शाह ने धनबल से प्रदेश की चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश की। मोदी ने अपने खरबपति मित्रों का कर्जा माफ कर दिया, लेकिन किसानों की कर्ज माफी के लिए उनके पास पैसा नहीं है।
प्रियंका ने कुटलैहड़ विधानसभा में भी चुनावी जनसभा को संबोधित करने के बाद बड़सर विधानसभा क्षेत्र में भोटा और बड़सर बाजार में रोड शो निकाला, जिसमें अपार जनसमर्थन मिला। प्रियंका ने लोकसभा उम्मीदवार सतपाल रायजादा, विधानसभा उम्मीदवार राकेश कालिया, विवेक शर्मा और सुभाष ढटवालिया के लिए वोट मांगे। उन्होंने कहा कि आज भी भाजपा हिमाचल की सरकार को अस्थिर करने की कोशिशों में लगी हुई है। हमारे नेताओं की दृढ़ता व एकजुटता है कि हम आज भी सरकार चला रहे हैं। जिन्होंने जाना था अच्छा है चले गए, सच्चाई जनता के सामने आनी चाहिए। आपदा व सरकार गिराने के प्रयासों के समय भाजपा का सच जनता के सामने आया। मोदी राजनीति में धर्म का इस्तेमाल करते हैं, धार्मिक काम नहीं करते। जनता के प्रति उनकी श्रद्धा नहीं है। भाजपा वाले कौन से धर्म के रखवाले हैं, जो धनबल से सरकारों को गिराते हैं, विधायकों को करोड़ों रुपये में खरीदते हैं। आपदा में साथ नहीं देते। मोदी कैसे प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने हिमाचल में आपदा को पूरी तरह नकार दिया।
प्रियंका ने कहा कि भाजपा दस साल में दुनिया की सबसे अमीर पार्टी बन गई। यह कैसे हुआ, जानना जरूरी है, बड़ी-बड़ी कंपनियों को डरा धमकाकर कर चंदा लिया गया। हिमाचल में 6-6 उपचुनाव करा रहे हैं, जिनमें करोड़ों रुपये खर्च करेंगे, लेकिन आपदा में देने के लिए पैसे नहीं। मोदी सरकार ने दस साल जनता को गुमराह करने का ही काम किया। हिमाचल की आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित नहीं किया। प्रदेश सरकार ने अपने कोष से 22000 प्रभावित परिवारों को फिर से बसाया। लेकिन, मोदी सरकार ने एक रुपया नहीं दिया। आर्थिक संकट के बावजूद 1.36 लाख कर्मचारियों को ओपीएस दी, 18 साल से अधिक आयु की बेटियों, महिलाओं को 1500 रुपये पेंशन दी जा रही है। दूध पर एमएसपी देने वाला हिमाचल पहला राज्य है, यहां के मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू लोगों के साथ घुलमिलकर रहते हैं। आपदा में आपने उनका काम देखा है।
उन्होंने कहा कि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद अनुराग ठाकुर जनता को नहीं दिखते। वह दिल्ली में सूट-बूट में अपने खरबपति मित्रों के साथ ही नजर आते हैं। मोदी भी ऐसे हैं, वह भी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी नहीं जाते। इनकी विचारधारा अलग ही है। पूर्व पीएम इंदिरा गांधी घर-घर जाकर लोगों की समस्याओं को जानती थी, लोग डांट भी देते थे, लेकिन उन्होंने कभी बुरा नहीं माना। आज के प्रधानमंत्री कोई डांट के दिखाए। एक तरफ देश के साथ घुलने-मिलने की विचारधारा है, तो दूसरी तरफ 100-100 करोड़ रुपये लगाकर कांग्रेस के विधायकों को खरीदकर सरकार गिराने की। मोदी के राज में देश में लोकतंत्र का नामोनिशान नहीं है। देश में 70 करोड़ बेरोजगार हैं। अग्निवीर जैसी योजनाएं युवाओं के भविष्य को अंधकारमय कर रही हैं। कांग्रेस सत्ता में आते ही अग्निवीर योजना को बंद करेगी। मनरेगा की दिहाड़ी 400 रुपये प्रतिदिन होगी। शहरी मनरेगा शुरू करेंगे। छोटे व्यापार को मजबूत बनाया जाएगा। हिमाचल की जनता 1 जून को जागरूक होकर वोट करे। चारों लोकसभा व 6 विधानसभा सीटों को जिताइये, इससे देशभर में यह संदेश जाना चाहिए कि देवभूमि की जनता धनबल की राजनीति बर्दाश्त नहीं करती। यहां के लोग पवित्र और शालीन हैं, उनमें सभ्यता का अहसास होता है। मेरा भी हिमाचल में घर है। लोग साधारण जीवन जीते हैं, झूठ में अधिक नहीं पड़ते। पिछले डेढ़ साल से कांग्रेस की सरकार ने जनता की सेवा की है, लेकिन भाजपा इसे पचा नहीं पा रही। हमारे सारे नेता जनसेवा में लगे हैं जबकि भाजपा व प्रधानमंत्री मोदी राजनीति कर रहे हैं, आपदा तक में हिमाचल की सुध नहीं ली।

अनुराग बताएं, तलवाड़ा-हमीरपुर में कब पहुंचेगी रेल : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सतपाल रायजादा के अलावा गगरेट, कुटलैहड़ व बड़सर में राकेश कालिया, विवेक शर्मा व सुभाष ढटवालिया के पक्ष में मतदान की अपील की। उन्होंने कहा कि अनुराग ठाकुर 20 साल सांसद जीतकर जा रहे हैं, लेकिन न तो ऊना से तलवाड़ा तक रेल लाइन पहुंची न ही हमीरपुर तक। अनुराग झूठ के सहारे अपनी राजनीति चला रहे हैं। मोदी व अनुराग ने दस साल पहले कहा कि एक साल में रेल लाइन तलवाड़ा पहुंच जाएगी, वे जनता को बताएं कि अब फाइल क्यों दबी हुई है। लोकतंत्र में जनबल सबसे बड़ी ताकत है, इसलिए भाजपा के झूठ व धनबल को जनता 1 जून को करारा जवाब दे। गांधी परिवार का हिमाचल के साथ गहरा नाता है। इंदिरा गांधी ने हिमाचल को अलग राज्य बनाया। सोनिया गांधी ने देश की एकता व अखंडता के लिए प्रधानमंत्री का पद त्याग दिया आजकल कोई प्रधान व पंच का पद नहीं छोड़ता। भाजपा झूठ पर झूठ परोसने में लगी हुई है। लेकिन, उसका चाल, चेहरा व चरित्र बेनकाब हो चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गगरेट में चाय, पकौड़े वालों, पेट्रोल पंप, ढाबों व दुकानों पर चैतन्य टैक्स लगा हुआ था। कोई अफसर गगरेट आने को तैयार नहीं था, एक अफसर ने तो मुझे कहा कि काजा भेज दो पर गगरेट मत भेजो। अफसर कमीशन के पैसे एकत्रित करने को तैयार नहीं थे। बिकाऊ विधायक चैतन्य का लक्ष्य हर साल 15 करोड़ रुपये कमाने का था, जो हमारी सरकार के भ्रष्टाचार के चोर दरवाजों को बंद करने के कारण संभव नहीं था। भाजपा जितना मर्जी जोर लगा ले यह सरकार पांच साल चलेगी और जनसेवा काम बदस्तूर जारी रहेगा। न तो भाजपा ओपीएस छीन सकती है न ही महिलाओं की 1500 रुपये पेंशन रुकवा पाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *