Himachal Tonite

Go Beyond News

Jaypee University of Information Technology

चार जून से एक-दूसरे के कपड़े फाड़ेंगे कांग्रेस और गठबंधन के नेता : कंगना रनौत

*फ्लाप रैली, फ्लॉप नेता , फ्लॉप गारंटी यही है कांग्रेस की कहानी : कंगना*

*अल्पसंख्यक संस्थानों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पछड़ा वर्ग को आरक्षण से वंचित करने के लिए कांग्रेस जिम्मेदार।*

*मंडी :-* भाजपा मंडी लोकसभा प्रत्याशी कंगना रनौत ने आज बल्ह विधानसभा में अपना चुनाव प्रचार किया। चुनावी जनसंवाद में उन्होंने कहा कि चार जून से कांग्रेस नेता व इंडी गठबंधन के लोग एक दूसरे के कपड़े फाड़ना शुरू कर देंगे। उन्होंने दावा किया कि चार जून शाम होते ही इंडी वाले कहेंगे, कि कांग्रेस ने चुनावों में लुटिया डुबो दी और एक-दूसरे के कपड़े फाडना शुरू कर देंगे।कांग्रेस का शाही परिवार पराजय का ठीकरा खरगे जी के सिर पर फोड़ करके विदेश में छुट्टियां मनाने चला जाएगा और बेचारे खरगे जी कार्यकर्ताओं का गुस्सा सहते-सहते थक जाएंगे। इंडी गठबंधन और कांग्रेस वाले देश को डराते थे और कहते थे अगर राम मंदिर बना तो देश में बवाल हो जाएगा, खून की नदियां बहेंगी। अयोध्या में भव्य राममंदिर के रूप में हमारी 500 वर्षों की प्रतीक्षा पूरी हुई है। वहीं जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाकर मोदी सरकार ने शांति स्थापित करने का काम किया है ऑपरेशन गंगा युद्धग्रस्त क्षेत्र से ना सिर्फ़ भारतीयों को सुरक्षित बाहर लाने का माध्यम बना, बल्कि दुनिया ने मोदी राज में सशक्त भारत की बुलंद तस्वीर भी देखी। आज भारत एक वैश्विक महाशक्ति बन कर उभरा है देश हर मोर्चे पर विश्व का मार्ग प्रशस्त कर रहा है तो यह केवल मात्र प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में ही संभव हो सका है।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का राजनैतिक करियर जितना फ्लॉप है, उतनी ही फ्लॉप उनकी ऊना की रैली रही। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मंच से सिर्फ़ झूठे आश्वासन और मुंगेरीलाल के सपने दिखाए जा रहे थे। राहुल गांधी ने मंच से झूठी गारंटियों की झड़ी लगा दी, क्योंकि उन्हें पता है कि ना उनकी सरकार आनी है ना उन्हें गारण्टियाँ पूरी करनी हैं। हिमाचल प्रदेश में छोटे मियाँ यानी सुक्खू की गारंटियाँ पूरी हुई नहीं, बड़े मियाँ राहुल गांधी दो-चार और गारंटियाँ दे गये।आज हिमाचल में कांग्रेस को सरकार बनाए 16 महीने बीत गए हैं पर इन्होंने अपनी एक भी गारंटी पूरी नहीं की है। हिमाचल की माताएं बहनें अभी तक अपने ₹1500 प्रति महीने का इंतजार कर रही हैं। हिमाचल के किसान अभी तक ₹2 प्रति किलो गोबर और ₹100 प्रति लीटर दूध खरीदे जाने का इंतजार कर रहे हैं। हिमाचल के युवा 5 लाख नौकरियां का इंतजार कर रहे हैं। हिमाचल के परिवार 300 यूनिट फ्री बिजली का इंतजार कर रहे हैं। कांग्रेस के नेता इन मुद्दों पर कुछ नहीं बोलते हैं बल्कि नए-नए भ्रम फैलाने में लगे रहते हैं। इन सारी गारंटियों को छोड़ कांग्रेस अब नई गारण्टियों के चक्कर में पड़ गई है।

कंगना ने कांग्रेस की तुष्टीकरण की राजनीति पर हमला बोलते हुए कहा कि अल्पसंख्यक संस्थानों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पछड़ा वर्ग को आरक्षण से वंचित करने के लिए कांग्रेस और इसके गठबंधन के मित्र जिम्मेदार हैं देश के कई अल्पसंख्यक संस्थानों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों को इन्ही लोगों ने दूर किया है कलकत्ता हाईकोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए भाजपा नेत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार के कई मुस्लिम समूहों को ओबीसी की सूची में शामिल करने के फैसले को रद्द कर दिया गया है। यह लोग केवल मात्र आरक्षण विरोधी हैं अगर सत्ता में आएंगे तो आरक्षण खत्म कर धार्मिक आधार पर आरक्षण को बांट देंगे इसका बड़ा उदाहरण विभिन्न प्रदेशों में कांग्रेस और इसके गठबंधन की सरकारों द्वारा आरक्षण से की गई छेड़छाड़ है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *