Himachal Tonite

Go Beyond News

शिमला के डवलपमेंट  प्लान को लेकर प्रदेश सरकार ने लोगों को गुमराह किया: आदर्श सूद

कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पूर्व विधायक आदर्श सूद ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि शिमला के डवलपमेंट  प्लान को लेकर उन्होंने लोगों को गुमराह किया है। उन्होंने कहा कि सरकार एनजीटी के फैंसले को लेकर कागजी घोड़े दौड़ाती रही। उन्होंने कहा है कि एनजीटी ने भी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए है।
आज यहां एक पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए आदर्श सूद ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि उन्होंने शिमला नगर निगम चुनावों में राजनैतिक लाभ लेने के लिये शिमला को डेल्वपमेंट प्लान लाया था। उन्होंने कहा कि आज भी शिमला शहर में सेंकडो भवन इसके चलते नियमित नही हो पाए है।
आदर्श सूद ने कहा कि शिमला में सरकार ने लोगों को 24 घण्टे पेयजल आपूर्ति करने की बड़ी बड़ी बातें कही थी,जो आज दिन तक पूरी नही हुई। शिमला में दिनों दिन बढ़ती ट्रैफिक व्यवस्था व समुचित पार्किंग न मिलने से लोग परेशान है। स्मार्ट सिटी के नाम पर शहर में करोड़ो रूपये की बर्बादी की जा रही है।भाजपा ने अपने प्रचार पर सड़को के किनारे होल्डिंग पर करोड़ो रूपये खर्च किये है।
आदर्श सूद ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपनी चुनावी रैलियों पर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों  पर ही करोड़ो खर्च किये। उनकी बिलासपुर, ऊना, चबा में रैलियों के लिये एचआरटीसी के अनेक रूट रद्द कर सेंकडो बसों को लगाया गया।उन्होंने कहा कि जयराम सरकार ने प्रदेश की आर्थिक स्थिति को पूरी तरह अस्त व्यस्त कर दिया है। प्रदेश पर 70 हजार करोड़ से अधिक के कर्ज में डूब चुका है। कर्मचारियों को उनके देय भत्तों का भुगतान तक नही किया जा रहा है। सरकार ने जो भी कर्ज लिया है वह अपने नेताओं की आव भक्त व चुनावी रैलियों व राजनैतिक लाभ के लिये खर्च किया गया।
आदर्श सूद ने प्रदेश में जयराम सरकार के कार्यकाल पर निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि आज जिस प्रकार से प्रदेश में महंगाई व बेरोजगारी बड़ी है उससे हर वर्ग परेशान व आहत है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही कर्मचारियों को ओल्ड पेंशन बहाल की जाएगी। बढ़ती महंगाई से लोगों को राहत देने के लिए महिलाओं को 1500 रुपए की हर माह आर्थिक सहायता व बेरोजगारी से राहत देने के लिये बेरोजगार युवाओं को एक बड़ी स्टार्टअप योजना शुरू की जाएगी।इसमे उन्हें अपना स्वरोजगार शुरू करने के लिये ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा।

Language & Culture Dept, HP in Partnership with Keekli Presents: मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published.