Himachal Tonite

Go Beyond News

लगातार जारी है कोरोना से लड़ाई, न बरतें कोई ढिलाई : ऋग्वेद ठाकुर

Image Source Internet

मंडी, 3 नवंबर : उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि कोविड 19 से लगातार लड़ाई जारी है, ऐसे में जरूरी है कि कोरोना को हल्के में लेकर किसी भी प्रकार की ढिलाई न बरती जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना सेे हो रहे असामयिक निधन के दुखद मामलों को रोकने के लिए प्रशासन बहुत गंभीर है और इसे लेकर सभी जरूरी कदम उठाए गए हैं।

इसी संदर्भ में उपायुक्त ने मंगलवार को मंडी जिला के संबंधित प्रशासनिक व स्वास्थ्य महकमे के आला-अधिकारियों की बैठक बुलाई थी। बैठक में मंडी जिला में कोरोना के कारण हो रही असामयिक मौतों को रोकने केे उपायों से जुड़े सभी पहलुओं पर गहन विचार किया गया।

उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग को जिला में कोरोना संक्रमण के मामलों में रोगियों का उनकी स्वास्थ्य स्थिति के अनुरूप अलग-अलग वर्गीकरण कर उपचार पर बल देने के निर्देश दिए। उन्होंने गंभीर रोगियों केे स्वास्थ्य पर अतिरिक्त ध्यान देने को कहा।

सामुदायिक समर्थन बेहद महत्वपूर्ण
उपायुक्त ने कहा कि कोविड संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने और इसमें मृत्यु के खतरे को कम करने में सामुदायिक समर्थन बेहद महत्वपूर्ण है। कोविड से बचाव को लेकर अपनी जिम्मेदारी समझना और उसे ठीक से निभाना जरूरी है।

लक्षण दिखने पर छुपाएं नहीं, जांच कराएं
ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि यह जरूरी है कि कोरोना का कोई भी लक्षण दिखने पर उसे छुपाएं नहीं, बल्कि जांच कराएं और खुद को और परिवार को सुरक्षित बनाएं। तुरंत टैस्ट करवाएं, ताकि समय पर ईलाज से किसी भी प्रकार के खतरे को टाला जा सके।

युवाओं की लापरवाही से संक्रमित हो रहे घर के बुजुर्ग
उपायुक्त ने कहा कि विश्लेषण में ऐसे कुछ मामले सामने आए हैं, जिनमें कोरोना से संक्रमित बुजुर्गों को कोरोना संक्रमण उनके घर के युवाओं की लापरवाही से हुआ। कोरोना का संक्रमण स्वस्थ्य व युवा वर्ग के लोगों की अपेक्षा बीमारी से ग्रसित अथवा बुजुर्गों को अधिक हानि पहुंचा रहा है, इसके दुखद परिणाम भी सामने आ रहे हैं। इसलिए उनका ज्यादा ध्यान रखना बहुत जरूरी है। आवश्यक है कि होम आइसोलेशन का ईमानदारी से पालन किया जाए। यदि घर पर आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं है तो प्रशासन की ओर से उपलब्ध व्यवस्था का लाभ लें।जब भी बाहर निकलें तो मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग रखें और घर पर भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। पहले से किंही बीमारियों से ग्रसित लोगों व बुजुर्गों के कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें चिकित्सकीय सुपरविजन में रखना अधिक हितकर है।

बीमारों-बुजुर्गों का अधिक ध्यान रखने की जरूरत
बैठक में श्री लाल बहादुर शास्त्री राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचौक के प्रिंसिपल डॉ. आर.सी ठाकुर ने कहा कि बुजुर्गों को किसी भी प्रकार की स्वास्थ्यगत समस्या पर तुरंत डॉक्टरी सहायता लें। अब तक कोरोना संक्रमण से जितनी भी मौतें हुई हैं, उनमें बुजुर्गों और गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों की संख्या सर्वाधिक है।
डॉ. ठाकुर ने लोग कोरोना लक्षण आने पर भी डॉक्टर की मदद लेने में देर कर रहे हैं और इसीलिए स्थितियां बिगड़ रही हैं । अस्पताल में मरीजों के देरी से पहुचने के कारण गंभीर मामलों में उन्हें बचा पाना मुश्किल हो जाता है। जरूरी है कि डॉक्टरी मदद लेने में देरी न करें। समय पर सही उपचार मिलने से बहुमूल्य जीवन बचाना संभव है।

समय पर ईलाज से बीमार-बुजुर्ग जीत रहे कोरोना से जंग
नेरचौक अस्पताल में 90 फीसदी मरीज हुए ठीक

नेरचौक मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जीवानंद चौहान ने कहा कि अस्पताल में लाए गए सैंकड़ों बीमारों-बुजुर्गों ने समय पर ईलाज से कोरोना की जंग जीत ली है। नेरचौक अस्पताल में लाए गए करीब 90 फीसदी मरीज ठीक हुए हैं। कोरोना से स्वस्थ्य होने में दवाओं व देखभाल के साथ ही मरीज का अपना मनोबल भी काफी अहम भूमिका निभा रहा है। मंडी जिले की अगर बात करें तो यहां अनेकों उम्रदराज लोगों-बुजुर्गों-बीमारों ने समय पर उपचार, देखभाल व अपने मनोबल के दम पर कोरोना का जंग जीती है।

कोरोना के 495 एक्टिव मामले
मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि मंडी जिला में वर्तमान में कोरोना के 495 एक्टिव मामले हैं, इनमें से 435 होम आइसोलेशन में हैं। जिला में अब तक कुल 3080 मामले आए हैं। इनमें 43 की मौत हुई है।

डीसी की जनता से अपील
उपायुक्त ने जनता से अपील करते हुए कोविड संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने में प्रशासन का सहयोग करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि मास्क लगाना, बार-बार हाथ धोना और 2 गज की दूरी जैसे सामान्य स्वास्थ्य उपायों का जिम्मेदार तरीके से अभ्यास करने से कोरोना संक्रमण से बचाव संभव है।
बैठक में अतिरिक्त जिलादंडाधिकारी श्रवण मांटा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश ठाकुर सहित प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

Keekli presents Fiction Treasure Trove 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published.